झारखण्ड की गोड़ाइत जनजाति Godait tribes of Jharkhand

14. गोड़ाइत जनजाति

  • झारखण्ड की अल्पसंख्यक जनजाति 
  • प्रजाति संबंध – प्रोटो-आस्ट्रेलायड समूह (Source- www.jharenvis.nic.in) 
  • निवास क्षेत्र  –  राँची, पलामू, हजारीबाग, धनबाद, लोहरदगा, संथाल परगना व सिंहभूम 
  •  भाषा –  सदानी भाषा का प्रयोग 
  • पितृसत्तात्मक सामाजिक व्यवस्था 
  • समान गोत्र विवाह पर प्रतिबन्ध 
  • विधवा विवाह प्रतिबन्ध 
  • मुख्य पेशा –  कृषि, पहरेदारी का कार्य (प्राचीन समय में)

पूजा पाठ 

  • पुरूबिया तथा देवी माई की पूजा 
    • पुरूबिया एक जनजातीय भूतात्मा है । 
  • प्रमुख त्योहार –  देवी माय, पुरूबिया, मति आदि
  • बैगा – इनके पुजारी को कहते हैं।
  • माटी – इस जनजाति में जादू-टोना करने वाले व्यक्ति को कहा जाता है।