लोक प्रशासन का अर्थ और विस्तार (JPSC Paper 4)
You are currently viewing लोक प्रशासन का अर्थ और विस्तार (JPSC Paper 4)

jpsc paper 4 1441386939

लोक प्रशासन का अर्थ और विस्तार
Meaning and Scope of Public Administration  

  • ‘ लोक प्रशासन ‘ प्रशासन की एक अधिक व्यापक अवधारणा का ही एक पहलू है । इसलिए लोक प्रशासन का अर्थ समझने से पहले यह आवश्यक है कि हम प्रशासन ‘ शब्द का अर्थ समझे । 

  • अग्रेजी शब्द administer ( प्रशासन करना ) दो लातिन शब्दों ad और minister के मेल से निकलता है जिनका अर्थ है ‘ सेवा करना या प्रबंधित करना ‘

  •  ‘ प्रशासन ‘ का शाब्दिक अर्थ है सार्वजनिक या निजी मामलों का प्रबंधन । 

प्रशासन की परिभाषाए ( Administration Defined ) 

  • प्रशासन की अवधारणा को विभिन्न विद्वानों ने तरह – तरह से परिभाषित किया है 

ई.एन. ग्लैडेन के अनुसार 

  •  ” प्रशासन का सीधा – सादा अर्थ है – मामलो  का प्रबंध करना, लोगों की देखभाल करना या उनका ध्यान रखना । 

  • यह एक निर्धारित उद्देश्य को पूरा करने के लिए किया गया सुनिश्चित कार्य है ।

फेलिक्स ए . नीग्रो के अनुसार

  •  ” किसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए लोगों और सामग्रियों के संगठन और उपयोग हो ‘ प्रशासन ‘ है । 

जॉन ए , बीग के अनुसार 

  • प्रशासन एक निर्धारित उद्देश्य को पूरा करने के लिए किया जाने वाला सुनिश्चित कार्य है । 

  • यह उन घटनाओं के घटित होने की स्थितियाँ पैदा करने जिन्हें हम घटित होने देना चाहते हैं और उन घटनाओं को रोकने जो हमारी आकाक्षाओं के विपरीत है, के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए मामलो को योजनाबद्ध व्यवस्था और संसाधनों का नियोजित उपयोग है । 

  • यह ऊर्जा समय और धन के मामले में न्यूनतम लागत पर वाचित उद्देश्य प्राप्त करने के लिए उपलब्ध श्रम और सामग्रियों की व्यवस्था  है । 

प्रशासन के 2 मूलभूत घटक है 

  • सामूहिक प्रयास 
  • समान लक्ष्य 

प्रशासन का अर्थ होता है

  • एक समान लक्ष्य को पूरा करने के लिए लोगों के एक समूह का सामूहिक प्रयास 
  • प्रशासन एक सार्वभौमिक प्रक्रिया है, जो विविधता पूर्ण संस्थागत व्यवस्थापन्नों में काम करती है. 
  • अपने संस्थागत व्यवस्थापन्नों के आधार पर प्रशासन को दो भागो  में बांटा जाता है। 

    1. लोक प्रशासन
    2. व्यक्तिक प्रशासन

  • 1 .लोक प्रशासन : लोक प्रशासन सरकारी व्यवस्थापन है।
  • 2 .व्यक्तिक प्रशासन : व्यक्तिक प्रशासन के गैर सरकारी व्यवस्थापन व्यापारी या व्यापारिक उद्यम है।

लोक प्रशासन की परिभाषाएं ( Public Administration Defined ) 

  • ‘ लोक प्रशासन, प्रशासन के एक अधिक व्यापक क्षेत्र का एक पहलू  है । 

  • यह राजनीतिक निर्णय माताओं द्वारा निर्धारित लक्ष्यों और उद्देश्य की पूर्ति के लिए एक राजनीतिक व्यवस्था में मौजूद होता है । 

  • इसे सरकारी प्रशासन के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि ‘ लोक प्रशासन ‘ में लगे विशेषण लोक ‘ का अर्थ ‘ सरकार ‘ होता है । 

  • इस प्रकार लोक प्रशासन का ध्यान लोक नोकरशाही पर अर्थात् यानी सरकार का नौकरशाही संगठन ( या प्रशासनिक संगठन ) पर केंद्रित होता है । 

लोक प्रशासन को निम्न रूपों में परिभाषित किया गया है 

वुडरो विल्सन के अनुसार

  • ” लोक प्रशासन का काम कानून को सविस्तार व्यवस्थित रूप से लागू करना है । 

  • कानून लागू करने की प्रत्येक कार्यवाही प्रशासन की ही एक गतिविधि है । 

एल.डी व्हाइट के अनुसार

  •  ” लोक प्रशासन में वे सभी गतिविधियाँ शामिल हैं जिनका उद्देश्य लोक नीति की पूर्ति करना या उसे लागू करना है । 

साइमन के अनुसार

  • लोक प्रशासन का अर्थ है – राष्ट्रीय, प्रांतीय और स्थानीय सरकारों की कार्यकारी शाखाओं की गतिविधियां

लोक प्रशासन शब्द दो अर्थो में प्रयोग किया जाता है

  • विस्तृत अर्थ (व्यापक अर्थ) और संकीर्ण अर्थ
  • विस्तृत अर्थ में लोक प्रशासन में सरकार के तीन शाखाओ में विधायिका कार्यपालिका और न्यायपालिका की गतिविधियां शामिल होती है।
    • इस उपागम को वुडरो विल्सन ,नीग्रो ,फीफनर आदि ने अपनाया है।
  • इसके विपरीत संकीर्ण अर्थ में लोक प्रशासन में सरकार की सिर्फ कार्यकारी शाखा की गतिविधियां ही शामिल होती है।
    • इस उपागम को साइमन, विलोबी, गुलिक आदि ने अपनाया है।

लोक प्रशासन का क्षेत्र

लूथर गुलिक के अनुसार लोक प्रशासन सात तत्वों से बनता है जिसे POSDCORB नाम दिया गया है

  1. P – Planning (योजना )
  2. O – Organising (संगठित करना )
  3. S – Staffing (कर्मचारियों को रखना )
  4. D – Directing (निर्देशित करना )
  5. CO – Co-ordinating (तालमेल )
  6. R – Reporting (सुचना देना )
  7. B – Budgeting (बजट बनाना )

लोक प्रशासन का महत्व

  • व्यक्ति का जन्म से लेकर मृत्यु तक प्रत्येक गतिविधि प्रशासनिक एजेंसियों द्वारा निर्देशित और नियंत्रित होती है

लोक प्रशासन के महत्व के संबंध में कुछ प्रतिष्ठित विद्वानों के कथन

  • डानहम : यदि हमारी सभ्यता विफल होती है ,तो इसका मुख्य कारण प्रशासन का विखंडन होगा।
  • रेमजे मयूर : सरकारें आती जाती रहती है, मंत्रियों का उत्थान पतन होता रहता है, किंतु एक देश का प्रशासन सदा चलता रहता है, कोई भी क्रांति से बदल नहीं सकती और कोई भी विद्रोह इसे जड़ से उखाड़ नहीं सकता।
  • लोक प्रशासन का आधुनिक समाज में अहम भूमिका निम्न कारणों से है
    • नीति का संरक्षण
    • स्थिरता और व्यवस्था को कायम रखना
    • सामाजिक आर्थिक परिवर्तनों को संस्थागत रूप देना
    • विशाल स्तर के वाणिज्यिक सेवाओं का प्रबंधन
    • वृद्धि और आर्थिक विकास को सुनिश्चित करना
    • समाज के निर्बल वर्गों का संरक्षण
    • जनमत का निर्माण
    • लोक नीतियों और राजनीतिक रुझानों को प्रभावित करना

Leave a Reply