संस्कृति से संबंधित कानून Law related to culture : SARKARI LIBRARY

  • Post author:
  • Post category:Blog
  • Reading time:7 mins read

 

सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण का दायित्व 

 

मौलिक अधिकार 

संस्कृति एवं शिक्षा संबंधी अधिकार 

  • अनुच्छेद 29: भारत के नागरिकों को, जिसकी अपनी विशेष भाषा, लिपि या संस्कृति है, उसे बनाए रखने का अधिकार होगा। 
  • अनुच्छेद 30: धर्म या भाषा पर आधारित सभी अल्पसंख्यक वर्गों को अपनी रुचि की शिक्षण संस्थाओं की स्थापना और प्रशासन का अधिकार होगा। 

 

भारतीय संविधान के नीति निदेशक तत्त्व 

  • अनुच्छेद 49 : राज्य राष्ट्रीय महत्त्व के स्मारकों, स्थानों और वस्तुओं का संरक्षण करने का प्रयास करेगा। 

 

मौलिक कर्तव्य 

  • अनुच्छेद 51क (च) : संस्कृति या परंपरा का महत्त्व समझें और उसका परिरक्षण करें।” 
  • 1904 में ‘प्राचीन स्मारक परिरक्षण अधिनियम’ पारित हुआ। 
    • उद्देश्य :  उन भवनों को संरक्षण प्रदान करना जो किसी निजी स्वामित्व के अधीन  है। 
    • उन भवनों को ‘प्राचीन तथा ऐतिहासिक स्मारक और पुरातत्त्वीय स्थल एवं अवशेष (राष्ट्रीय महत्त्व की घोषणा) अधिनियम 1951 के अधीन राष्ट्रीय महत्त्व का घोषित किया गया।
  • पुरावशेष निर्यात नियंत्रण अधिनियम, 1947 

 

  • प्राचीन स्मारक तथा पुरातत्त्वीय स्थल और अवशेष अधिनियम 1958

 

  • प्राचीन संस्मारक तथा पुरातत्त्वीय स्थल और अवशेष नियम, 1959 
    • इसने 1951 में बने अधिनियम का स्थान लिया। 

 

  • पुरावशेष तथा बहुमूल्य कलाकृति अधिनियम, 1972 
    • पुरावशेषों तथा बहुमूल्य कलाकृतियों के निर्यात को विनियमित करना 

1.पुरावशेष :  ऐसी कोई भी वस्तु, पत्थर की मूर्ति, धातु, पांडुलिपि इत्यादि जिसका उत्पादन 100 वर्ष या इससे अधिक वर्ष पूर्व हआ हो ‘पुरावशेष‘ कहलाता है। 

2. अगर कोई व्यक्ति सरकार की अनुमति के बिना इन पुरावशेषों का निर्यात करता है तो यह कृत्य अवैध माना जाएगा। 

  • 1993 में ‘सार्वजनिक अभिलेख अधिनियम, 1993‘ पारित किया गया। 
    • अधिनियम का उद्देश्य
      • सार्वजनिक हित में अभिलेखों को स्थायी रूप से संरक्षित रखना है।