हो जनजाति की शासन व्यवस्था (मुंडा मानकी मुंडा शासन व्यवस्था और विलकिन्सन रूल) Ho tribe governance

हो जनजाति की शासन व्यवस्था (मानकी मुंडा शासन व्यवस्था और विलकिन्सन रूल,1833)

  • मुण्डा-मानकी शासन व्यवस्था हो जनजाति की पारंपरिक शासन व्यवस्था है। 
  • इस शासन व्यवस्था को भारत की प्रथम गणतांत्रिक शासन व्यवस्था के रूप में देखा जाता है। 
  • इस शासन व्यवस्था को थॉमस विल्किंसन द्वारा मंजूरी मिली थी।
  • हो जनजाति मुण्डा समाज की एक उपशाखा है। 
    • मुण्डा- मुण्डा जनजाति के ग्राम पंचायत का प्रमुख
    • मानकी – कई ग्राम पंचायतों से मिलाकर बनी संस्था का प्रमुख
  • हो जनजाति की शासन व्यवस्था को  दो स्तरों में विभाजित किया गया है 
  1. ग्रामीण स्तर पर ग्राम पंचायत 
  2. परहा (गांव के समूह) के स्तर पर परहा/पट्टी पंचायत

 

A.ग्रामीण स्तर पर ग्राम पंचायत

मुण्डा 

  • हो शासन व्यवस्था में गाँव के प्रधान को मुण्डा कहा जाता है।
  • मुण्डा प्रशासनिक, न्यायिक तथा लगान एकत्रित करने का कार्य करता है। 

डाकुआ

  • डाकुआ मुण्डा का सहयोगी होता है
  •  डाकुआ का कार्य मुण्डा के निर्णयों एवं आदेशों को गाँव के लोगों तक पहुंचाता है। 

तहसीलदार

  • तहसीलदार गाँव का राजस्व अधिकारी होता है जो लगान वसूली का कार्य करता है। 

दिउरी

  • यह गाँव का धार्मिक प्रधान है तथा जो धार्मिक कार्यो को संपन्न करता है।
  • यह धार्मिक विवादों के मामलों को सुलझाने का भी कार्य करता है। 

यात्रा दिउरी

  • यह दिउरी का सहयोगी होता है।

 

B.परहा (गांव के समूह) के स्तर पर परहा/पट्टी पंचायत

मानकी/परहा राजा 

  • 15 -20  गांवों को मिलाकर बने गाँवो के समूह को पड़हा कहा जाता है,जिसका प्रमुख मानकी कहलाता है। 
  • मानकी द्वारा आयोजित सभा में सभी मुण्डा तथा डाकुआ की उपस्थिति होते हैं जिसमें सर्वसम्मति से किसी मामले का निपटारा किया जाता है। 

पीरपंच

  • पड़हा का न्यायिक प्रधान पीरपंच कहलाता है। 

 

महत्वपूर्ण पद/शब्द

संबंधित तथ्य

ग्राम स्तर पर ग्राम पंचायत 

मुण्डा

  • गाँव(ग्राम पंचायत) का प्रमुख 

डाकुआ

दिउरी

  • गाँव का धार्मिक प्रधान

यात्रा दिउरी

  • दिउरी का सहयोगी

तहसीलदार

  • गाँव का राजस्व अधिकारी

परहा  स्तर पर परहा/पट्टी  पंचायत(अंतर्ग्रमीण पंचायत)

15 -20  गांवों का समूह

पड़हा

  • 15 -20 गांवों का समूह 

मानकी(परहा राजा )

  • पड़हा का प्रमुख

पीरपंच

  • पड़हा का न्यायिक प्रधान