झारखण्ड के मुख्यमंत्री Chief Minister of Jharkhand

 

झारखण्ड के मुख्यमंत्री

SOURCE : link

नाम

कार्यकाल 

1.बाबूलाल मरांडी 

15 नवंबर, 2000 से 17 मार्च, 2003 

2.अर्जुन मुण्डा 

18 मार्च, 2003 से 01 मार्च, 2005 

3.शिबू सोरेन 

02 मार्च, 2005 से 11 मार्च, 2005 (न्यूनतम) 

4.अर्जुन मुण्डा 

12 मार्च, 2005 से 14 सितंबर, 2006 

5.मधु कोड़ा 

18 सितंबर, 2006 से 24 अगस्त, 2008

6.शिबू सोरेन 

27 अगस्त, 2008 से 12 जनवरी, 2009

राष्ट्रपति शासन 

19 जनवरी, 2009 से 30 दिसंबर, 2009,

344 दिन (सर्वाधिक- 11 महीने 11 दिन)

राज्यपाल – सैयद सिब्ते रजि 

7.शिबू सोरेन 

30 दिसम्बर, 2009 से 31 मई , 2010 

राष्ट्रपति शासन 

01 जून, 2010 से 11 सितंबर, 2010

राज्यपाल –  एम्.ओ.एच फारूख 

8.अर्जुन मुण्डा 

11 सितंबर, 2010 से 18 जनवरी, 2013 

राष्ट्रपति शासन

18 जनवरी, 2013 से 13 जुलाई, 2013 

राज्यपाल –  सैयद अहमद 

9.हेमंत सोरेन

13 जुलाई, 2013 से 23  दिसंबर, 2014 तक

10.रघुवर दास 

28 दिसंबर, 2014 से 23  दिसंबर, 2019 तक 

 सर्वाधिक दिन एक कार्यकाल में 

11.हेमंत सोरेन

29 दिसंबर, 2019 से ……….. 

 

झारखण्ड के संसदीय कार्यमंत्री

Link 

प्रथम  -श्री रामचन्द्र केशरी

  • कार्यकाल: 20 नवम्बर,2000 – 17 मार्च,2003

वर्तमान – श्री आलमगीर आलम

  • कार्यकाल: 3 जनवरी, 2020

संसदीय सचिव

Link 

30.07.2005 से 17.09.2006

1. श्री उपेन्द्र नाथ दास

2.श्री लोकनाथ महतो

3.श्री अशोक कुमार

4.श्री नीलकंठ सिंह मुण्डा

विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष

Link 

प्रथम – श्री स्टीफेन मरांडी

  • कार्यकाल:24.11.2000 – से 10.07.2004

विधानसभा के सचेतक (विपक्ष)

Link 

प्रथम  – श्री हेमलाल मुर्मू

विधानसभा के सचेतक (सत्ता पक्ष)

Link 

प्रथम  – श्री चन्द्रेश्वर प्रसाद सिंह

विधानसभा के सचिव/प्रभारी सचिव

Link 

प्रथम  – श्री कपिलेश्वर प्रसाद

  • पदनाम:सचिव
  • कार्यकाल: 20.11.2000-से 24.12.2000

वर्तमान – श्री सैय्यद जावेद हैदर

  • पदनाम:प्रभारी सचिव
  • कार्यकाल: 24.10.2021 से

 

रघुवर दास 

  • जन्म – 18.12.1954, जमशेदपुर
  • पिता – स्व चमन राम
  • माता – स्व सोनवती
  • पत्नी – रुक्मणि देवी
  • राज्य के पहले गैर आदिवासी मुख्यमंत्री हैं। 
  • उन्होंने जिन्दगी की शुरुआत टाटा स्टील श्रमिक के रूप में की। 
  • मजदूर नेता के तौर पर जय प्रकाश नारायण के सम्पूर्ण क्रांति आंदोलन में इन्हें गिरफ्तार कर जेल में रखा गया। 
  •  रघुवर दास को 1995 में पहली बार बिहार विधानसभा का सदस्य चुना गया था? 
  • बाबूलाल मरांडी सरकार में श्रम एवं नियोजन मंत्री बनाया गया
  • अर्जुन मुण्डा सरकार में भवन निर्माण विभाग मंत्री रहे। 
  • रघुवर दास को झारखण्ड राज्य के उप मुख्यमंत्री के रूप में दिसंबर 2009 में नियुक्त किया गया था  
  • पाँच वर्ष के पूर्ण कार्यकाल का मुख्यमंत्री रहने का गौरव प्राप्त है। 
  • चुनाव क्षेत्र – जमशेदपुर पूर्वी
  • ओडिशा के 26वें राज्यपाल के रूप में कार्यरत हैं।

हेमंत सोरेन 

  • जन्म – 10 /08 /1975 , नेमरा रामगढ
  • पिता – सीबू सोरेन
  • माता – रूपी सोरेन
  • पत्नी – कल्पना सोरेन
  • उन्होंने 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद इंजीनियरिंग के लिए बीआईटी मेसरा में एडमिशन लिया था लेकिन डिग्री पूरी नहीं कर पाए।
  • 2003 में झारखण्ड छात्र मोर्चा के अध्यक्ष बने
  • 2009 में राज्य सभा के सदस्य चुने गए। 
  • वर्तमान में झारखण्ड के मुख्यमंत्री के रूप में दूसरी बार शपथ लिये है।

 

बाबू लाल मरांडी 

  • जन्म – 11 जनवरी 1959 ,कोदई बांक ,गिरिडीह
  • पिता – छोटू मरांडी
  • राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री थे। 
  • बारहवीं एवं तेरहवीं लोकसभा के लिए दुमका से निर्वाचित
  • 2001 में रामगढ़ से विधानसभा उपचुनाव में निर्वाचित
  • ये 1998 में बाजपेयी सरकार के कैबिनेट मंत्री(वन एवं पर्यावरण मंत्री ) रहे। 
  • 2006 में इन्होंने (भाजपा) से अलग होकर झारखण्ड विकास मोर्चा नामक पार्टी बनायी, 2020 में इसका भाजपा में विलय किया। 

मधु कोड़ा 

  • जन्म – 6 जनवरी 1971 पट्टाहातु जगनाथपुर पश्चिम सिंघभूम
  • पिता – रसिक कोड़ा
  • माता – कुणी कोड़ा
  • राज्य के पहले निर्दलीय मुख्यमंत्री बने। 
  • बाबूलाल मरांडी सरकार में पंचायती राज मंत्री बने थे।

 

अर्जुन मुंडा

  • जन्म – 5 जनवरी 1968  घोड़ाबांधा जमशेदपुर
  • पिता – गणेश मुंडा
  • माता – सामरा मुंडा
  • ये तीन बार मुख्यमंत्री बने, 
  • सबसे लंबे दिनों तक मुख्यमंत्री के पद पर विराजमान
  • बाबूलाल मरांडी द्वारा गठित प्रथम मंत्रिमंडल में इन्हें समाज कल्याण मंत्री बनाया गया। 
  • वर्तमान में ये केन्द्र सरकार में जनजातीय मामलों के कैबिनेट मंत्री है। 
  • 1995 एवं 2000 में खरसावां से निर्वाचित

शिबू सोरेन 

  • Born-11 January 1944 ,Ramgarh, Bihar, British India
  • पिता – शोबरन मांझी
  • मां    – सोनामणि
  • पुत्र  – बड़ा – दुर्गा सोरेन(21 मई 2009 मृत्यु ) , मंझला – हेमंत सोरेन ,छोटे  – बसंत सोरेन 
  • महाजन प्रथा के खिलाफ ‘धनकटनी आंदोलन’ चलाया। 
  • संथालों ने उन्हें दिशोम गुरु यानी ‘दसों दिशाओं का गुरु’ नाम दिया। 
  • शिबू सोरेन ने पहला लोकसभा चुनाव 1977 में लड़ा था, लेकिन उस चुनाव में उन्हें हार मिली थी। 
  • इन्होंने भी तीन बार मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। 
  • मुख्यमंत्री के रूप में सबसे न्यूनतम कार्यकाल (10 दिन) का रिकॉर्ड इनके नाम है। 
  • ये झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के संस्थापक हैं। शिबू ने 4 फरवरी 1973 को झारखंड मुक्ति मोर्चा का गठन किया
  • 2004 में मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली सरकार में कोयला मंत्री बने, किन्तु 1975 के चिरूडीह कांड में गिरफ्तारी का वारंट जारी होने के कारण इस्तीफा देना पड़ा।