अफ्रीका (Africa )

अफ्रीका महाद्वीप

  • विश्व का दूसरा सबसे बड़ा महाद्वीप (क्षेत्रफल दष्टि से)
  • विश्व का दूसरा सबसे बड़ा महाद्वीप (जनसँख्या  दष्टि से)
    • उत्तर में –  भूमध्य सागर 
    • उत्तर-पूर्व – लाल सागर
    • पश्चिम तथा दक्षिण-पश्चिम – अटलांटिक महासागर 
    • पूर्व – हिंद महासागर 
  • यह विश्व का एकमात्र महाद्वीप है जहाँ से कर्क, मकर व विषुवत् तीनों रेखाएँ गुज़रती हैं। 
  • सिनई स्थलसंधि 
    • एशिया महाद्वीप को अफ्रीका महाद्वीप से जोड़ती है।
    • लाल सागर को भूमध्य सागर से अलग करती है। 
  • स्वेज़ नहर – लाल सागर को भमध्य सागर से जोड़ती है। 
    • स्वज़ नहर के भूमध्यसागरीय तट पर ‘स्वेज़ बंदरगाह’ (Suez Port) अवस्थित है। 
  • जिब्राल्टर जलसंधिअफ्रीका महाद्वीप को यरोप महाद्वीप से अलग करती है।  
  • ‘पठारों व मरुस्थलों का महाद्वीप’ भी कहते हैं।
  • अफ्रीका को अंध महाद्वीप (Dark Continent) भी कहा जाता है। 
  • अफ्रीका महाद्वीप विश्व के सर्वाधिक देशों वाला महाद्वीप है। 
  • विश्व का सबसे बडा मरुस्थल –  ‘सहारा मरुस्थल’ 
  • अफ्रीका महाद्वीप के दक्षिणी क्षेत्र में ‘कालाहारी मरुस्थल’ है। 
  • अफ्रीका का सबसे पूर्वी बिंदु-  ‘रास हफून’ (सोमालिया
  • अफ्रीका का सबसे पश्चिमी बिंदु –  ‘एल्मादी पॉइंट’, केप वर्दे (सेनेगल
  • अफ्रीका का उत्तरी बिंदु –  ‘रास-बेन-सक्का’ (ट्यूनीशिया
  • अफ्रीका का दक्षिणतम बिंदु –  ‘केप अगुलहास’ (दक्षिण अफ्रीका
  • अफ्रीका में ही ‘ग्रेट रिफ्ट वैली’ स्थित है। 
    • यह महान घाटी मालावी (न्यासा) झील के दक्षिण से लाल सागर होते हुए एशिया महाद्वीप के ‘मृत सागर’ तक फैली है।
    • इस महान भ्रंश घाटी में मालावी, अल्बर्ट, तुर्काना, तंगनाइका प्रमुख झीलों की उत्पत्ति हैं। 
  •  विश्व की दूसरी सबसे बड़ी मीठे पानी की झील – विक्टोरिया झील
  •  अफ्रीका की सबसे बड़ी झील –  ‘विक्टोरिया’  झील
    • ‘विक्टोरिया’ झील को ‘अफ्रीकन ग्रेट लेक्स’ का भाग माना जाता है। 
    • विक्टोरिया झील से विषुवत् रेखा गुज़रती है 
    • विश्व की सबसे बड़ी उष्णकटिबंधीय झील – विक्टोरिया झील
    • विक्टोरिया झील का विस्तार केन्या, युगांडातंजानिया में है 
    • श्वेत नील का उद्गम विक्टोरिया झील से होता है।

नदी

नील नदी

  • नील नदी –  उत्तरी सूडान, मिस्र
  • श्वेत नीलयुगांडा, द. सूडान,उत्तरी सूडान
  • ब्लू नीलइथियोपिया, उत्तरी सूडान
  • यह नदी ‘श्वेत नील’ एवं ‘ब्लू नील’ के मिलने से बनी है। 
  • श्वेत नील का उद्गम – विक्टोरिया झील से, 
  • ब्लू नील का उद्गम – इथियोपियाई उच्चभूमि से 
  • ब्लू नील उत्तरी सूडान की राजधानी खार्तूम के समीप श्वेत नील से मिलने के बाद ‘नील नदी’ कहलाती है।
  • नील नदी का मुहाना –  भूमध्यसागर में 
  • ‘नील नदी की देन’मिस्र को कहा जाता है। 
  • यह विश्व की सबसे लंबी नदी (6,695 किमी.) है। 

कॉन्गो (जायरे) नदी

  • देश – कॉन्गो गणराज्य,कॉन्गो, अंगोला 
  • यह अफ्रीका की दूसरी सबसे लंबी नदी है। 
  • इसके तट पर कॉन्गो गणराज्य की राजधानी ‘किंशासा‘ व कॉन्गो की राजधानी ‘ब्राजाविले’ अवस्थित है।
  • यह नदी विषुवत् रेखा को दो बार काटती हुई अटलांटिक महासागर में गिरती है। 
  • इस नदी बेसिन के विषुवत्रेखीय क्षेत्र में विश्व की सबसे छोटे कद वाली प्रजाति ‘पिग्मी’ रहती है। 
  • कसई, उबांगी इसकी महत्त्वपूर्ण सहायक नदियाँ हैं। 
  • कसई नदी बेसिनडायमंड रिज़र्व के लिये प्रसिद्ध है।

जांबेज़ी नदी

  • अंगोला, जांबिया, जिबाब्व, माज़ाबिक, बोत्सवाना, नामीबिया
  • नामीबिया, जांबिया, जिंबाब्वे और बोत्सवाना की सीमा जांबेज़ी नदी के समीप आकर मिलती है। 
  • यह नदी जांबिया व जिंबाब्वे की प्राकृतिक सीमा बनाती है। यहीं पर विक्टोरिया जलप्रपात स्थित है। 
  • इस नदी पर करीबा बांध का निर्माण किया गया है तथा इससे निर्मित जलाशय को ‘करीबा झील’ कहते हैं। 
  • मुहाना – मोजांबिक चैनल में

ऑरेन्ज नदी

नाइजर नदी 

वोल्टा नदी 

  • घाना, माली, बेनिन, टोगो आदि।
  • इस पर ‘अकासोंबो बांध’ का निर्माण किया गया है। 
  • इससे निर्मित जलाशय को ‘वोल्टा झील’ कहते हैं | जो अफ्रीका का सबसे बड़ा कृत्रिम जलाशय है।
  • वोल्टा बेसिन कोको की कृषि हेतु महत्त्वपूर्ण है। 
  • मुहाना गिनी की खाड़ी।

जुब्बा व शैबेली नदी

लिंपोपो नदी

अफ्रीका महाद्वीप के प्रमुख पर्वत एवं पठार

एटलस पर्वत

  • यह नवीन वलित पर्वत का उदाहरण है।
  • यह मोरक्को, अल्जीरिया और ट्यूनीशिया में विस्तृत पर्वत श्रेणी है। 
  • एटलस पर्वत की सबसे ऊँची चोटी‘टौब्कल’ (4,165 मी) है, जो ग्रेट एटलस पर्वत श्रेणी का भाग है। 

इथियोपिया की  उच्च भूमि

  • इसकी सर्वोच्च चोटी ‘रास-दशन’ (4,533 मी.) है। 
  • ब्लू नील नदी का उद्गम क्षेत्र

माउंट केन्या

  • यह केन्या उच्चभूमि की सर्वोच्च चोटी है, जिसकी माउंट केन्या ऊँचाई 5,199 मी. है।
  • यह अफ्रीका की दूसरी सबसे ऊँची चोटी है।

माउंट एल्गन

माउंट किलिमंजारो

  • अफ्रीका की सर्वोच्च चोटी जो तंजानिया में अवस्थित है। 
  • इसकी ऊँचाई 5,895 मी. है।
  • इसे ‘माउंट किबो’ के नाम से भी जानते हैं। 

माउंट राउवेनजोरी

  • डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कॉन्गो (ज़ायरे) की अल्बर्ट झील के समीप स्थित है।
  • इसे ‘Mountains of the Moon‘ के नाम से भी जाना जाता है।

माउंट कैमरून

  • अफ्रीका का एक सक्रिय ज्वालामुखी पर्वत, कैमरून के तटीय क्षेत्र में अवस्थित।

माउंट सिनई

  • हॉर्स्ट पर्वत का उदाहरण 
  • एशिया महाद्वीप का भाग
  • मिस्र का मरुभूमीय पर्वत 

तिबेस्ती पठार (मासीफ़)

  • उत्तरी चाड में स्थित एक मरुभूमीय पर्वत 

कटंगा पर्वत 

  • यह कॉन्गो गणराज्य देश के दक्षिणी भाग में स्थित है।
  • अफ्रीका के उत्तर में भूमध्य सागरीय तट को ‘बारबरी कोस्ट’ कहते हैं और इस पर स्थित देशों को ‘बारबरी स्टेट्स’ कहा जाता है।

बारबरी स्टेट्स

देश

राजधानी 

मोरक्को

रबात

ट्यूनीशिया

ट्यूनिश

अल्जीरिया

अल्जीयर्स

लीबिया

त्रिपोली

अफ्रीका महाद्वीप के प्रमुख स्थलरुद्ध (Landlocked) देश 

बोत्सवाना, मालावी, जिंबाब्वे, जांबिया, युगांडा, लेसोथो, स्वाज़ीलैंड, बुरुंडी, रवांडा, इथियोपिया, बुर्किना फासो, मध्य अफ्रीका गणराज्य, चाड, नाइजर, माली, दक्षिण सूडान

जलवायु एवं वनस्पति (Climate and Vegetation) 

  • अफ्रीका के अधिकांश क्षेत्र का विस्तार कर्क व मकर रेखा के मध्य है, जिससे यहाँ उष्णकटिबंधीय जलवायवीय दशाओं का विकास हुआ है। अतः यहाँ वर्ष भर उच्च तापमान पाया जाता है। 
  • विश्व का द्वितीय सबसे उच्चतम तापमान वाला क्षेत्र -अल अजीजिया(लीबिया
    • विश्व में सबसे उच्चतम तापमान वाला क्षेत्र- ‘डेथ वैली’ (उत्तर अमेरिका) 
  • अफ्रीका में सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान–  पश्चिमी कैमरून का क्षेत्र 

कृषि (Agriculture) 

  • अफ्रीका की नकदी फसलों में पाम ऑयल(ताड़ का तेल )‘ प्रमुख है। 
  • आइवरी कोस्ट–  विश्व में सर्वाधिक कोको का उत्पादन करने वाला देश 
  • नाइजीरिया –  ज्वार का उत्पादन
  • केन्या – चाय उत्पादन 
  • अफ्रीका में जैतून का सर्वाधिक उत्पादन करने वाला देश –  ट्यूनीशिया 
  • तंज़ानिया के जंजीबार व पेम्बा द्वीप पर लौंग और इलायची का वृहद् स्तर पर उत्पादन किया जाता है 
    • पेम्बा व जंजीबार को ‘लौंग द्वीप’ (क्लोव आइलैंड) भी कहते हैं। 

वन तथा वन्यजीव (Forest and Wildlife) 

  • अफ्रीका के ‘कॉन्गो गणराज्य’ ‘विश्व का प्राकृतिक चिड़ियाघर’
  • दक्षिण अफ्रीका के ट्रांसवाल क्षेत्र में जिराफ़ व जेबरा मिलते हैं
  • कालाहारी मरुस्थल‘बस्टर्ड ‘शुतुरमुर्ग‘ जैसे पक्षियों का आवास स्थल है। 
  • केन्या ‘मसाई मारा नेशनल पार्क’ 
अफ्रीका महाद्वीप के प्रमुख अंतरीप 
अगुलहास अंतरीप द. अफ्रीका हिंद महासागर
सेंट फ्रांसिस अंतरीप  द. अफ्रीका हिंद महासागर
गुड होप अंतरीप द. अफ्रीका केपटाउन के दक्षिण में
फ्रियाो  अतंरीप नामीबिया द. अटलांटिक महासागर
ओगुए अंतरीप    उत्तरी अटलांटिक महासागर
पल्मास अंतरीप   उत्तरी अटलांटिक महासागर
वर्दे अंतरीप सेनेगल उत्तरी अटलांटिक महासागर
ब्लांका अंतरीप   उत्तरी अटलांटिक महासागर
डेलगाडो अंतरीप   हिंद महासागर
गुआडीफुई अंतरीप सोमालिया हिंद महासागर
हाफुन  अंतरीप सोमालिया हिंद महासागर
सेंट मेरी अंतरीप मेडागास्कर  हिंद महासागर
अम्ब्रे अंतरीप मेडागास्कर हिंद महासागर

अफ्रीका के कर्क, मकर तथा विषुवत् रेखा पर अवस्थित देश

कर्क रेखा

मिस्र, लीबिया, नाइजर, अल्जीरिया, माली, मॉरितानिया, पश्चिमी सहारा

मकर रेखा

मेडागास्कर, मोजांबिक, दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, नामीबिया 

विषुवत् रेखा

सोमालिया, केन्या, युगांडा, डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कॉन्गो (जायरे), कॉन्गो, गैबन

खनिज संसाधन (Mineral Resources) 

  • अफ्रीका में सर्वाधिक हीरे का उत्पादन बोत्सवाना व कॉन्गो गणराज्य में होता है
  • दक्षिण अफ्रीका के किंबरलेप्रिटोरियाप्रमुख हीरा उत्पादक क्षेत्र हैं। 
  • अफ्रीका महाद्वीप में सोने का सर्वाधिक उत्पादन दक्षिण अफ्रीका से होता है। 
    • ‘जोहांसबर्ग’, स्वर्ण खनन हेतु विश्व प्रसिद्ध है। 
  • अफ्रीका में सर्वाधिक बॉक्साइट का उत्खनन –  गिनी  में
  • अफ्रीका में सर्वाधिक तांबा का भंडार –  ज़ायरे के कटंगा प्रदेश में 
  • अफ्रीका में सर्वाधिक ग्रेफाइट का निक्षेप –  मेडागास्कर द्वीप में 

जनसंख्या व नगरीकरण 

  • मानव की उत्पत्ति का केंद्र अफ्रीका को माना जाता है। 
  • अफ्रीका की अधिकांश जनसंख्या ‘नीग्रिटो प्रजाति’ की है । 
  •  अफ्रीका का सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश –  ‘नाइजीरिया’ 

अफ्रीका महाद्वीप की प्रमुख जनजातियाँ 

जनजाति

संबंधित क्षेत्र

बुशमैन

पिग्मी

  • कॉन्गो बेसिन (पिग्मी जनजाति के घरों को ‘मोंगुलस’ कहा जाता है।)

बददू

  • सहारा मरुस्थल 

मसाई

जुलु

  • दक्षिणी अफ्रीका (अपनी विशेष सांस्कृतिकपरंपराओं के लिये प्रसिद्ध)

ओरोमो 

लुओ और बागांडा

  • विक्टोरिया झील के आस-पास की जनजाति

किकूयू एवं कंबा

फुलानी

  • पश्चिमी अफ्रीका

नूबा

  • सूडान

बंतू 

  • पूर्वी, मध्य एवं दक्षिणी अफ्रीका

अफ्रीका के महत्त्वपूर्ण देश (Important Countries of Africa) 

दक्षिण अफ्रीका 

  • अफ्रीका महाद्वीप का दक्षिणतम बिंदु-  ‘आशा अंतरीप’ (केप ऑफ गुड होप) 
  • पूर्वी भाग में ड्रैकेंसबर्ग पर्वत स्थित है। 
    • इस पर्वत से ‘ऑरेन्ज’ व ‘वॉल’ नदियों का उद्गम होता है। 
  • दक्षिण अफ्रीका की ‘वैधानिक राजधानी’– केपटाउन’ 
  • यहाँ पाये जाने वाले शीतोष्ण कटिबंधीय घास के मैदान को ‘वेल्ड’ कहा जाता है। 
    • यहाँ के वेल्ड प्रदेश को ‘मक्का त्रिभुज’ भी कहा जाता है। 
  • यहाँ की मेरिनो भेड़ से अच्छी किस्म के ऊन प्राप्त किये जाते हैं। 
  • प्रमुख सोना उत्पादक केंद्र – रैंड में स्थित ट्रांसवाल क्षेत्र
  • जोहांसबर्ग को ‘स्वर्णनगर’ कहते हैं। 
  • किंबरले ‘डायमंड सिटी’ भी कहते हैं। 
  • यहाँ के नटाल प्रदेश मे जुलू जनजाति निवास करती है । 
  • दक्षिण अफ्रीका की राजधानी (प्रशासनिक)-  ‘प्रिटोरिया’
  • दक्षिण अफ्रीका की न्यायिक राजधानी ‘ब्लौम्फोन्टेन’ 
  • डरबन बंदरगाह यहाँ का सबसे व्यस्त बंदरगाह है। 
  • यहाँ अन्य नगरों में पोर्ट एलिजाबेथईस्ट लंदन प्रमुख हैं। 

मिस्र गणतंत्र 

  • यह अफ्रीका का एकमात्र देश है जो स्थल खंड के माध्यम से एशिया से जुड़ता है। 
  • नील नदी कोमिस्र की जीवन रेखा’ कहते हैं। 
  • मिस्र में ही नील नदी पर ‘अस्वान बांध’ का निर्माण किया गया है जो नील नदी का सबसे ऊँचा बांध है। 
    • इस बांध से निर्मित जलाशय को ‘नासिर झील’ कहते हैं जो कृत्रिम झील का उदाहरण है। 
  • ‘खमसिन’ गर्म हवा का प्रभाव मिस्र के अधिकांश क्षेत्रों पर रहता है। 
  • स्वेज नहर पर पोर्ट सईदपोर्ट स्वेज़ के मध्य उत्तर से दक्षिण दिशा की ओर क्रमशः टिमसा, ग्रेट बिटर एवं लिटिल बिटर नामक झीलें अवस्थित हैं। 
  • सिनई प्रायद्वीप के पूर्व में अक्काबा की खाड़ी तथा पश्चिम में स्वेज़ की खाड़ी अवस्थित है। 
  • मिस्र का कपास पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। 

अफ्रीका के मुख्य बहुउद्देशीय बांध

बांध

संबंधित तथ्य

ओवन बांध

  • ओवन प्रपात के समीप, जो श्वेत नील नदी पर है।

सेन्नार बांध

  • सूडान में ब्लू नील नदी पर अवस्थित

अस्वान बांध

  • मिस्र में नील नदी पर अवस्थित

इन्गा बांध

  • जायरे नदी (कॉन्गो) पर अवस्थित 

काहोरा बासा बांध 

  • मोजांबिक में जांबेज़ी नदी पर अवस्थित

करीबा बांध 

  • जांबेज़ी नदी पर अवस्थित

कैंजी बांध

अकोसोंबो/वोल्टा बांध

  • वोल्टा नदी (घाना) पर निर्मित 
  • बांध से बनी वोल्टा झील 
  • अफ्रीका की सबसे बड़ी कृत्रिम झील

 

  • मिस्र के किसानों को ‘फेल्लाह’ कहते हैं। 
  • मिस्र की राजधानी –  काहिरा’ 
  • मिस्र का सबसे बड़ा पत्तन – अलेक्जेंड्रिया नील (नदी डेल्टाई क्षेत्र में) 
  • मिस्र में ही नील नदी के किनारे ‘गीज़ा शहर’ अवस्थित है। 
    • गीज़ा के पिरामिडों को दुनिया के सात अजूबों (Seven Wonders) में शामिल किया गया है। 

नाइजीरिया 

  • नाइजीरिया अफ्रीका का सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश है। 
  • इसको ‘निम्न भू-भागों’ व ‘पठारों का देश’ कहते हैं।
  • अफ्रीका का सर्वाधिक पाम ऑयल उत्पादन करने वाला देश–  नाइजीरिया
  • नाइजीरिया को ‘तेलताड़’ की संज्ञा दी जाती है। 
  • प्रमुख नकदी फसलमूंगफली , कोको 
  • नाइजीरिया के मध्य क्षेत्र में सवाना क्षेत्र का विकास हुआ है। 
  • सवाना घास के मैदान में पशुपालन किया जाता है। 
  • यहाँ ग्रीष्म ऋतु में धूल भरी हवाएं चलती हैं, जिन्हें ‘हरमट्टन’ कहा जाता है।
  • उत्तरी भाग ‘जॉस का पठार’ अवस्थित है।
  • मध्यवर्ती भाग‘अडामावा उच्चभूमि’ अवस्थित है। 
  • यहाँ के मध्यवर्ती क्षेत्र से नाइजर नदी का प्रवाह होता है। 
    • नाइजर नदी के मुहाने पर नाइजीरिया का बंदरगाह ‘पोर्ट हारकोर्ट’ स्थित है। 
    • नाइजर नदी पर ‘कैंजी बांध’ का निर्माण किया गया है। 
    • नाइजर की सहायक नदी –   ‘बेन्यू’ है ।
  • नाइजीरिया का प्रमुख शहर – ‘लागोस नगर’ 
  • नाइजीरिया की प्रमुख जनजातियाँ – हाउसा, फुलानी व योरुबा 
    • हाउसा व फुलानी – ‘मुस्लिम 
    • योरुबा–  ‘ईसाई 

अफ्रीकी  देश

राजधानी

मुद्रा 

नामीबिया 

विधोंक 

नामीबियाई डॉलर

बोत्सवाना

गैबॉरोन 

पुला 

जिंबाब्वे

हरारे 

डॉलर

मोजांबिक

मापुटो 

मेटिकल 

दक्षिण अफ्रीका

प्रिटोरिया (कार्यपालिका)

ब्लोमफांटेन (न्यायिक)

केप टाउन (विधायी) 

रैंड 

स्वाजीलैंड 

(Eswatini)

मबाबाने 

लीलांगनी

लेसोथो

मासेरु 

लोटी 

मेडागास्कर

अंतानानारिओ 

फ्रैंक 

मॉरीशस

पोर्ट लुइस 

रुपया 

कोमोरोस

मोरोनि 

फ्रैंक

सेसेल्स 

विक्टोरिआ 

रुपया

अंगोला 

लुवान्डा 

kwanzaa

जांबिया

लुसाका 

kwacha

मलावी

लिलोंग्वे 

kwacha

विषुवतीय गिनी

मलाबो 

फ्रैंक

गैबोन 

लिब्रेविल्ले 

फ्रैंक

कांगो

ब्राजिविले 

फ्रैंक

कांगो प्रजातांत्रिक गणराज्य

किन्शासा 

फ्रैंक

युगांडा 

कम्पाला 

शिलिंग 

रवांडा

किगाली 

फ्रैंक

बुरुंडी

गीटेगा 

(पूर्व -बुजुमबुरा) 

फ्रैंक

तंजानिया

डोडोमा 

शिलिंग

केन्या

नैरोबी 

शिलिंग

सोमालिया

मोगादिशु 

शिलिंग

जिबूती

जिबूती

फ्रैंक

इथोपिया

अदीस अबाबा 

birr

इरिट्रिया

अस्मारा 

nakfa

उत्तरी सूडान 

खार्तूम 

पाऊंड 

दक्षिणी सूडान

जुबा 

पाऊंड

मिस्र 

काहिरा 

पाऊंड

लीबिया

त्रिपोली 

दीनार 

ट्यूनीशिया

ट्यूनिश 

दीनार

अल्जीरिया

अल्जीयर्स 

दीनार

मोरक्को

रबात 

दिरहम 

पश्चिमी सहारा 

लायूने 

मॉरिटानिया

नुवाकशॉट 

ouguiya

माली

बमाको 

फ्रैंक

नाइजर 

नियामे 

फ्रैंक

चाड 

एन जामेना 

फ्रैंक

मध्य अफ्रीकन गणराज्य 

बांगुइ 

फ्रैंक

कैमरून 

याउंडे 

फ्रैंक

नाइजीरिया

अबुजा 

Naira ( नाइरा)

घाना   

आक्रा 

कैंडी 

टोगो

लोम 

फ्रैंक

बेनिन

पोर्टो नोवो 

फ्रैंक

बुर्किना फासो

उवागादोगु 

फ्रैंक

सिएरा लियोन 

फ्रीटाउन 

लियोन

लाइबेरिया

मोनरोविया 

डॉलर

कोट दी आइवरी 

यामोसुकुरो 

फ्रैंक

गिनी

कॉनाक्री 

franc

गिनी बिसाऊ

बिसाऊ

फ्रैंक

दक्षिणी गाम्बिया 

बाजुल 

dalasi (डालासी)

सेनेगल

डकार 

फ्रैंक

कैप वर्दे 

प्रेया 

एस्कुडो

साओ टोमे प्रिन्सिपे 

साओ टोम

dobra

अफ्रीका से संलग्न प्रमुख सागर/महासागर/खाड़ी

नाम

अवस्थिति

भूमध्य सागर 

गेब्स की खाड़ी

सिद्रा की खाड़ी

लाल सागर 

  • अफ्रीका के उत्तर-पूर्व में
  • मिस्र, सूडान, इरीट्रिया,जिबूती
  • यह अफ्रीका को एशिया से अलग करता है। 

स्वेज की की खाड़ी

अदन की खाड़ी 

हिंद महासागर

  • अफ्रीका के पूर्व में

मोजाम्बिक चैनल 

डेलागोआ की खाड़ी

  • हिंद महासागर में स्थित
  • मोजांबिक

अटलांटिक  महासागर

(अंध महासागर)

  • अफ्रीका के पश्चिम में

हेलेना 

वाल्विस की खाड़ी

गिनी की खाड़ी

(बेनिन बाईट) 

(बन्नी बाईट )

अफ्रीका की प्रमुख झीलें

 

अफ्रीका की प्रमुख झील 

  • करीबा झील ,मालावी (न्यासा) झील,तंगनाइका झील,विक्टोरिया झील,तुर्काना झील (रुडोल्फ झील),ताना झील,नासिर झील,चाड झील,वोल्टा झील 

करीबा झील

  • जाबिया, जिंबाब्वे
  • जांबेजी नदी पर मानव निर्मित झील 
  • जांबिया और जिंबाब्वे की सीमा पर स्थित है। 

मालावी (न्यासा) झील

  • मालावी, मोजांबिक, तंजानिया
  • भ्रंश घाटी में स्थित अफ्रीका की तीसरी बड़ी झील। 
  • इसे ‘कैलेंडर झील’ भी कहते हैं।

तंगनाइका झील 

  • तंजानिया, जायरे, बुरुंडी, जांबिया
  • विश्व की दूसरी सबसे गहरी झील (बैकाल झील प्रथम स्थान) 
  • अफ्रीका की दूसरी सबसे बड़ी झील। 
  • भंश घाटी में स्थित।

विक्टोरिया झील

  • केन्या, युगांडा, तंजानिया
  • अफ्रीका की सबसे बड़ी झील 
  • विश्व की मीठे पानी की दूसरी सबसे बड़ी झील (सुपीरियर झील प्रथम स्थान) 
  • विश्व की तीसरी सबसे बड़ी झील (कैस्पियन सागर प्रथम स्थान और सुपीरियर झील द्वितीय स्थान के बाद) 
  • श्वेत नील का उद्गम स्रोत 
  • विषुवत् रेखा इस झील से होकर गुज़रती है
    • अतः विश्व की सबसे बड़ी उष्णकटिबंधीय झील। 

तुर्काना झील (रुडोल्फ झील) 

नासिर झील 

  • मिस्र, सूडान 
  • अस्वान बांध का जलाशय 
  • नील नदी पर स्थित कृत्रिम झील, तथा कर्क रेखा इससे होकर गुज़रती है। 

चाड झील

ताना झील

  • इथियोपिया 
  • इथियोपिया की उच्चभूमि पर स्थित। 
  • ब्लू नील व नील की सहायक अतबारा नदी का उद्गम इसी झील से होता है।

वोल्टा झील

  • घाना
  • यह वोल्टा नदी पर मानव निर्मित झील है। 
  • 0° देशांतर रेखा इससे होकर गुज़रती है। 
  • अफ्रीका की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है। 

हॉर्न ऑफ अफ्रीका

देश 

राजधानी

इरीट्रिया

अस्मारा

जिबूती

जिबूती

इथियोपिया

अदिस अबाबा 

सोमालिया

मोगादिशु

अफ्रीका की तटीय रेखा एवं स्थित देश 

तट रेखा

देश 

ग्रैन कोस्ट (Grain Coast)

सियरा लियोन एवं लाइबेरिया 

आइवरी कोस्ट (Ivory Coast)

आइवरी कोस्ट 

(Gold Coast)

घाना

(Slave Coast)

नाइजीरिया, बेनिन एवं टोगो

अफ्रीका के संबंधित तथ्य मरुस्थल 

  • सहारा मरुस्थल,लीबिया मरुभूमि,पूर्वी मरुभूमि,नूबियन मरुस्थल,नामीब मरुस्थल,कालाहारी मरुस्थल,इगुइदि मरुस्थल,

सहारा मरुस्थल 

लीबिया मरुभूमि

  • अफ्रीका के उत्तर-पूर्व में लीबिया का क्षेत्र

पूर्वी मरुभूमि 

  • उत्तर-पूर्वी मिस्र का शुष्क क्षेत्र

नूबियन मरुस्थल 

  • विस्तार– सूडान के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र मरुस्थल का पूर्वी विस्तार) 
  • यह मरुभूमि नील नदी व लाल सागर के मध्य अवस्थित है।

नामीब मरुस्थल

कालाहारी मरुस्थल 

अफ्रीका से संबंधित महत्त्वपूर्ण तथ्य 

बाब-अल-मंडेब  जलसंधि 

  • यह अफ्रीका के जिबूती को पश्चिम एशिया के यमन से अलग करती है
  • यह लाल सागर को हिंद महासागर से जोड़ती है। 
  • इसी जलसंधि के समीप सोमालिया का ‘बरबरा बंदरगाह’ अवस्थित है। 
  • वहीं अदन की खाड़ी में यमन का ‘सोकोत्रा द्वीप‘ स्थित है।

नैरोबी

  • यह केन्या की राजधानी है। 
  • केन्या का महत्त्वपूर्ण बंदरगाह मोबासा है जो चाय के निर्यात हेतु प्रसिद्ध है। 
  • यहीं पर ‘UNEP’ (United Nations Environment Programme) का मुख्यालय अवस्थित है।

डरबन 

कोको त्रिभुज 

  • घाना में वोल्टा नदी बेसिनकोको के उत्पादन हेतु प्रसिद्ध है। 
  • यहीं के तीन स्थानों (सेकोंदी-टाकोरैदी, कुमासी, अक्रा) को मिलाकर ‘कोको त्रिभुज’ बनता है। 
  • ये स्थान कोको के उत्पादन व निर्यात हेतु प्रसिद्ध हैं।

फूटा जालोन पठार 

  • यह पश्चिमी अफ्रीका के गिनी देश में स्थित है। 
  • यहाँ से गैंबिया और सेनेगल नदियों का उद्गम होता है। 
  • सेनेगल नदीसेनेगल व मॉरितानिया की प्राकृतिक सीमा बनाती है। 
  • इस पठारी क्षेत्र में ‘फुलानी’ लोग निवास करते हैं ।

 साहेल क्षेत्र 

  • सहारा मरुस्थल के दक्षिण में फैले अर्द्धशुष्क प्रदेश को ‘साहेल’ कहते हैं। 

अफ्रीका के प्रमख पठार 

  • फूटा जालोन पठार,हुइला पठार , कटंगा पठार ,जोश पठार ,टाडेमेट पठार, तासिली पठार,