अम्ल वर्षा
« Back to Glossary Index
  • अम्ल वर्षा (acid rain) का कारण सल्फर डाईऑक्साइड है।
  • जब सल्फर डाइऑक्साइड (SO2) और नाइट्रोजन ऑक्साइड (NOx) वायुमंडल में जल तथा ऑक्सीजन के साथ क्रिया करते हैं, तो वे क्रमशः सल्फ्यूरिक अम्ल (H2SO4) एवं नाइट्रिक अम्ल (HNO3 )बनाते हैं। ये अम्ल फिर जल की बूंदों में घुल जाते हैं, जिससे अम्ल वर्षा, बर्फ या कोहरा बनता है।
  • आम तौर पर, 5.6 के PH को अम्लीय वर्षा की पहचान करने में आधार रेखा के रूप में उपयोग किया जाता है, 5.6 से कम पीएच की वर्षा को अम्लीय वर्षा माना जाता है।